धारा 354D क्या है? IPC Section 354 D IN Hindi |

धारा 354D क्या है: कई बार महिलाओं और यवातियों की यह शिकायत रहती है कि कोई उनका पीछा कर रहा था।  और वह कोई शिकायत पुलिस थाने में दर्ज़ नहीं कराती जब कि यह एक अपराध है आइये जानते है इसके बारे में-

IPC कि धारा 354 D में अपराध क्या है?

कोई भी पुरुष किसी महिला का उसके मना करने के बावजूद उसका बार-बार पीछा करता है।  या इंटरनेट, फेसबुक, इंसतगरम, पर स्त्री के मना करने के बावजूद उससे संपर्क साधने की कोशिश करता है।  वह IPC 354D के अंतर्गत अपराध करता है।

Apr4p0ys 5
IPC SECTION 354B IN HINDI

IPC कि धारा 354 D में अपराध के लिए आवश्यक तत्व-

  • किसी पुरुष द्वारा स्त्री का पीछा किए जाना।
  • पीछा बार-बार किए जाना।
  • स्त्री के मना करने के बावजूद पीछा करना।

कब यह धारा 354D लागू नहीं होगी-

  • जब ऐसा कार्य राज्य के आदेशानुसार उत्तरदायित्व की पूर्ति के लिए किया गया हो।
  • जब ऐसा कार्य विधि के अधीन किया गया हो।

IPC कि धारा 354 D में अपराध के लिए दंड-

  • प्रथम दोषी सिद्ध होने पर 3 वर्ष तक का कारावास और जुर्माना।
  • दुबारा दोषी सिद्ध होने पर 5 वर्ष तक का कारावास और जुर्माना।

IPC SECTION 34 IN HINDI

BEST BOOK FOR INDIAN LAW IN HINDI-

दण्ड प्रक्रिया संहिताCLICK HERE
भारतीय दंड संहिताCLICK HERE
आपराधिक प्रमुख अधिनियम  CLICK HERE
सिविल प्रक्रिया संहिताCLICK HERE

IPC कि धारा 354 D में जमानत संभव है या नहीं?

आईपीसी की धारा 354D में जमानत संभव है।

धाराअपराधदंडप्रक्रतिजमानतविचारण
354Dकिसी महिला का पीछा करना।प्रथम दोषी सिद्ध होने पर 3 वर्ष तक का कारावास और जुर्माना। दुबारा दोषी सिद्ध होने पर 5 वर्ष तक का कारावास और जुर्माना।संज्ञेयजमानतीय     कोई मजिस्ट्रेट

समान्यतया पूछे गए प्रश्न-

IPC कि धारा 354 D क्या है?

किसी भी महिला के मना करने के बावजूद उसका बार बार पीछा करना आईपीसी की धारा 354D के अंतर्गत अपराध है।

IPC कि धारा 354 D में दंड क्या है?

प्रथम दोषी होने पर 3 वर्ष तक का कारावास और जुर्माना और दोबारा दोषी होने पर 5 वर्ष तक का कारावास और जुर्माने की सज़ा का प्रावधान है।

IPC कि धारा 354 D में जमानत कैसे मिलती है।

आईपीसी की धारा 354D के अंतर्गत किसी भी व्यक्ति को मजिस्ट्रेट के जरिये जमानत दी जा सकती है।

अंतिम शब्द-

आज मेंने आपको IPC की धारा 354D के बारे में विस्तार से सरल भाषा में बताया है। मुझे उम्मीद है की आपको मेरे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी होगी। आपको अगर कोई सवाल हो तो आप कमेंट के माध्यम से पुछ सकते है धन्यबाद।

B.COM, M.COM, B.ED, LLB (Gold Medalist Session 2019-20) वर्तमान में वह उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में एक विधिक सलाहकार के तौर पर कार्य कर रहे हैं।

2 thoughts on “धारा 354D क्या है? IPC Section 354 D IN Hindi |”

Leave a Comment